चमोली तपोवन आपदा : एक साल बाद टनल से एक और शव बरामद, शव की हुई शिनाख्त

चमोली में एक साल पहले आई जल प्रलय के उस भयानक मंजर को आखिर कोई कैसे भूल सकता है। हर ओर पानी ही पानी और कीचड़ ही कीचड़. एक के बाद एक शव बरामद…अपनों के लिए रोत बिलखते परिजन. वहीं बता दें कि ठीक एक साल कुछ दिन बाद टनल से एक और शव बरामद किया गया है जिसकी शिनाख्त भी हो गई है। बता दें कि इससे पहले दो युवकों के शव बरामद किए गए हैं।

बीते साल ऋषिगंगा में आपदा आई थी। उस भयानक मंजर को आज भी प्रदेश देश नहीं भूला। एक के बाद एक शवों के मिलने का सिलसिला जब जारी हुआ तो हर कोई अपने को जिंदा मिलने की उम्मीद लगाए थे। कई ऐसे भी हैं जो आज भी अपनों का इंतजार कर रहे हैं। उस आपदा के कारण कई लोग आज भी लापता हैं। कई लोग मलबे में दफन हैं। जैसे जैसे टनल का मलबा साफ हो रहा है वैसे वैसे शव बरामद किए जा रहे हैं। बता दें कि आज एक साल बाद फिर से एक शव बरामद हुआ है। बीते दिन सोमवार को भी एक शव बरामद हुआ था। पिछले साल 7 फरवरी को चमोली तपोवन में आई आपदा में कई लोगों की मौत हो गई थी। कइयों के शव बरामद कर लिए गए थे जबकि कई लापता थे। वहीं मंगलवार को तपोवन टनल से एक और शव बरामद हुआ है। जिसकी शिनाख्त रविग्राम निवासी दीपक टम्टा के रूप में हुई है। पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम कराया जा रहा है।

आपको बता दें कि बीती 16 फरवरी को भी निर्मात्री कंपनी ऋत्विक के इंजीनियर गौरव प्रसाद का शव मिला था। बीते सोमवार को इसी कंपनी में कार्यरत जोशीमठ ब्लॉक के किमाणा गांव निवासी 21 वर्षीय रोहित भंडारी का शव मिला था और आज दीपक टम्टा का शव मिला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *